July 23, 2024

SRGOI : नर्सिंग के क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए P.B B.Sc Nursing  है बेहतर ऑप्शन…

0

श्री रावतपुरा सरकार ग्रुप ऑफ इंस्टिट्यूशन  के साथ जुड़कर आप पोस्ट बेसिक बैचलर ऑफ साइंस इन नर्सिंग  यानि P.B B.Sc Nursing  2 साल का कोर्स है जो कि नर्सिंग स्किल्स को बेहतर करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। पोस्ट बेसिक B.Sc NURSING कोर्स करने के लिए छात्रों को सामान्य नर्सिंग और मिडवाइफरी (जीएनएम) में प्रमाण पत्र के साथ-साथ 12वीं कक्षा पास करना अनिवार्य है जिसके बाद छात्र को स्वयं को रजिस्टर्ड नर्स और रजिस्टर मिडवाइफ (आरएनआरएम) में पंजीकृत करना अनिवार्य है।

resistration open 2022-23

एडमिशन प्रोसेस

 पोस्ट बेसिक बीएससी इन नर्सिंग में एडमिशन लेने के लिए विभिन्न संस्थानों के अपने अलग मानदंड हैं। हालांकि, चयन मेरिट लिस्ट, पर्सनल इंट्रव्यू, एंट्रेंस एग्जाम आदि में प्राप्त अंकों के आधार पर किया जाता है जिसमें उम्मीदवारों को सीटें आवंटित की जाती हैं। श्री रावतपुरा सरकार ग्रुप ऑफ इंस्टिट्यूशन के मदर टेरेसा कॉलेज ऑफ नर्सिंग, कुम्हारी और श्री रावतपुरा सरकार  इंस्टिट्यूट ऑफ नर्सिंग, शहडोल से कर सकते है.



Read More :- Engineer’s Day : श्री रावतपुरा सरकार विश्वविद्यालय में इंजीनियर्स के सम्मान हुआ कार्यक्रम…


मदर टेरेसा कॉलेज ऑफ नर्सिंग, कुम्हारी की जानकरी के लिए : CLICK HERE 

श्री रावतपुरा सरकार  इंस्टिट्यूट ऑफ नर्सिंग, शहडोल : CLICK HERE 

पात्रता

  • उम्मीदवार फिजिक्स, केमेस्ट्री, बायोलॉजी (पीसीबी) में 12वीं पास होना चाहिए।
  • जीएनएम (जनरल नर्सिंग मिडवाइफरी) में एक प्रमाण पत्र प्राप्त करना होगा जिसके लिए उन्हें राज्य नर्स पंजीकरण परिषद से आरएनआरएम (पंजीकृत नर्स पंजीकृत मिडवाइफ) के रूप में पंजीकृत करना होगा।
  • जिन उम्मीदवारों ने जीएनएम नहीं किया है, उनके पास 6-9 महीने के किसी भी नर्सिंग पाठ्यक्रम में प्रमाणपत्र होना आवश्यक है। साथ ही, उम्मीदवारों को आईएनसी या किसी अन्य प्रशिक्षण का प्रमाण प्रस्तुत करना होगा.

    Read More :- मदर टेरेसा कॉलेज ऑफ नर्सिंग, कुम्हारी में M.Sc. नर्सिंग, पढ़िए कोर्स की जानकारी…


कैरियर  स्कोप

पोस्ट बेसिक बीएससी इन नर्सिंग के बाद करियर स्कोप भारतीय हेल्थकेलर फील्ड के वर्तमान परिदृश्य में, स्किल्ड नर्सों और दाइयों की आवश्यकता है जो अपने काम के प्रति समर्पित हों। जो कि डॉक्टरों के साहयक और विशेषज्ञों, शिक्षकों, प्रशासकों और अन्य के रूप में चिकित्सा सहायता करते हैं। इस कोर्स को पूरा करने के बाद छात्र नर्स बन जाते हैं। जिसके लिए उन नर्सों को सरकारी और प्राइवेट दोनों क्षेत्रों में , अस्पताल, क्लीनिक, नर्सिंग होम, भारतीय सेना में और सरकार द्वारा चलाए जा रहे विभिन्न स्वास्थ्य पहल और योजनाओं में विशिष्ट समुदायों और ग्रामीण क्षेत्रों में  अच्छी नौकरी मिलती है।

अधिक जानकारी के लिए हमारे ऑफिसियल वेबसाइट पर विजिट करें: click here 


Read More:- देश के 14वें अटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी, अक्टूबर से शुरू होगा कार्यकाल…



Read More :- NURSING:  Shri Rawatpura Sarkar Group Of Institution में है नर्सिंग के कई आयाम, पढ़िए पूरी जानकारी…


 

_Advertisement_
_Advertisement_
_Advertisement_

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *