श्री रावतपुरा सरकार विश्वविद्यालय के डीएसडब्लू डॉ.सत्यज तिवारी का शोध पत्र हुआ अंतर्राष्ट्रीय पत्रिका में प्रकाशित

0

रायपुर।। श्री रावतपुरा सरकार विश्वविद्यालय के डीएसडब्लू डॉ.सत्यज तिवारी का शोध पत्र अंतर्राष्ट्रीय पत्रिका “इंडियन जर्नल ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी” में प्रकाशित हुआ, डॉ.सत्यज तिवारी के साथ मोनिका देशगत भी इस अंतर्राष्ट्रीय पत्रिका में सहायक लेखक के रूप में शामिल है। अंतर्राष्ट्रीय पत्रिका का विषय द बैस्ट प्राक्सिमिटी प्राबलम फार न्यू टाइफ आफ सिरिक अल्फा – बीटा – कान्ट्रेक्शन विच एप्लीकेशन “है।

डॉ.सत्यज तिवारी ने बताया की शोध पत्र का उद्देश्य नए प्रकार के सिरिक ए-बी-संकुचन के लिए सर्वोत्तम निकटता बिंदु प्रमेय उत्पन्न करना है जिससे हमने नए प्रकार के सिरिक ए-बी-संकुचन बनाए है इसके द्वारा नवीनता/सुधार: हम नए प्रकार के सिरिक ए-पी-संकुचन देते हैं जो सामान्यीकृत समीपस्थ अर्ध संकुचन और सिरिक प्रकार जी-संकुचन का सामान्यीकरण है। डॉ.सत्यज तिवारी, गणित के सह-प्राध्यापक है, इनके अधीन तीन शोध छात्र अनुसंधान एवं पी.एच.डी. हेतु पंजीकृत है, डॉ. तिवारी के इस अनुसंधान से गणित के क्षेत्र में समकालीन पद्धति में सफलता एवं स्पष्ट आयेगी। श्री रावतपुरा सरकार विश्वविद्यालय के प्रति-कुलाधिपति श्री हर्ष गौतम, कुलपति प्रो एस. के. सिंह, कुलसचिव डॉ. सौरभ के.शर्मा ने डीएसडब्लू डॉ.सत्यज तिवारी का शोध पत्र प्रकाशित होने पर उन्हें हार्दिक बधाई दी।

Read More:-श्री रावतपुरा सरकार विश्वविद्यालय में मनाया गया “विश्व उद्यमिता दिवस”, विद्यार्थियों के लिए विभिन्न प्रतियोगिताओं का किया गया आयोजन…



 

Read More:-श्री रावतपुरा सरकार विश्वविद्यालय ने की चतुर्मुखी विकास में विद्यार्थियों की भागीदारी सुनिश्चित…


 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *