SRU : “दीक्षारम्भ” समारोह का दूसरा दिन, मुख्य अतिथि डॉ. कमलेश जैन ने तम्बाकू से बचने दी हिदायत…

0

रायपुर। श्री रावतपुरा सरकार विश्वविद्यालय में 2022-23 सत्र दीक्षारम्भ समारोह का आज दूसरा रहा। इस कार्यक्रम का उद्देश्य छात्रों को शिक्षा के प्रति जागरूक करने और भविष्य में बेहतर दिशा निर्देशन प्रदान करना है। कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्वलन और राज्यगीत के साथ की गई। “दीक्षारम्भ”  समारोह के दूसरे दिन मुख्य अतिथि प्रो. जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज, रायपुर से डॉ. कमलेश जैन, विशेष अतिथि अविनाश डेवलपर्स प्राइवेट लिमिटेड से प्रबंध निदेशक आनंद सिंघानिया रहे। कार्यक्रम में विश्वविद्यालय के प्रति-कुलाधिपति हर्ष गौतम कुलपति प्रो. एस. के. सिंह और कुलसचिव प्रभारी मनोज कुमार सिंह भी उपस्थित रहे।


Read More :- एसआरयू में “दीक्षारम्भ उदघाटन समारोह, अतिथियों ने किया मार्गदर्शन, छात्रों ने ली शपथ…


कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कुलपति प्रो. एस. के. सिंह ने उपस्थित सभी लोगों का स्वागत किया। उन्होंने बताया कि महाराज जी के आशीर्वाद से, विश्वविद्यालय ने पिछले चार वर्षों में यूजीसी द्वारा 12 (बी) जैसी उपलब्धता प्राप्त कर ली हैं। जो किसी भी नए विश्वविद्यालय के लिए बहुत दुर्लभ है और विश्वविद्यालय की स्थापना 2018 में श्री रावतपुरा सरकार लोक कल्याण ट्रस्ट (एसआरएलकेटी) द्वारा की गई थी। छत्तीसगढ़ में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा और मानव के जीवन को बेहतर बनाने के मिशन के साथ आगे बढ़ रहा है। पिछले चार वर्षों के भीतर, 6000 से अधिक छात्र विश्वविद्यालय का हिस्सा हैं। उन्होंने कहा महाराज जी के उद्देश्य एवं श्रद्धा, आस्था, विश्वास, परिश्रम एवं प्रयास में ही सफलता की कुंजी छुपी हुई हैं। जो छात्र इन शब्दों के महत्व को समझ के अपने जीवन में इसे केंद्रित करते हैं उनके पास सफलता स्वयं आती है।

resistration open 2022-23

दीक्षारम्भ समारोह में मुख्य अतिथि डॉ. कमलेश जैन ने सभी छात्रों को जीवन का महत्व बताते हुए अपने जीवन के काफी अनुभव साझा किए। उन्होंने छात्र-छात्राओं से कहा शिक्षा के साथ अपने अंदर मानवता एवं नैतिकता लाए। अपने जीवन में परिवर्तन लाए, अपने आप को मोबाइल या किसी चीज की आदत ना बनाए। उन्होंने सभी से कहा अपने जीवन को सुरक्षित बनाए तभी आप दुसरो के जीवन की रक्षा कर सकेंगे। साथ ही उन्होंने दो महत्वपूर्ण बाते कही कि तम्बाकू जैसे हानिकारक चीज से बचे, जो कोई भी इसका सेवन करता हैं या जो आगे नहीं करना चाहता उन सभी को शपथ दिलाई। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अपने जीवन के बाद भी अंग दान करके लोगों की मदद करें।

विशेष अतिथि आनंद सिंघानिया ने विश्वविद्यालय की तारीफ करते हुए कहा कि चार साल में विश्वविद्यालय सफलता के इस मुक़ाम तक पहुंच चुका हैं अभी यहाँ 6000 से अधिक छात्र शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं ये काफ़ी बड़ी उपलब्धि हैं। उन्होंने सभी छात्रों से कहा की जब पूरी दुनिया वैश्वीकरण की तरफ बढ़ रही हैं जिसके लाभ और हानि दोनों ही है। कई तरह के माध्यम शिक्षा प्राप्त करने के लिए हैं। लेकिन हमे ये नहीं पता सही क्या है? गलत क्या है? तो हमें ऐसी केंद्रित शिक्षा की जरूरत हैं जो हमे सही दिशा दिखा सके। आपके ऊपर निर्भर हैं कि आप कैसे अपने लिए रास्ता बनाते हैं। हर एक दिन आपको एक दिशा दिखाता हैं। आपके पास कई अवसर हैं आपको उन्हें तलाश करना हैं। साथ ही उन्होंने अपने अनुभव भी साझा किए।


Read More :- श्री रावतपुरा सरकार इंस्टीट्यूट आफ नर्सिंग शहडोल कॉलेज में विराजे बाप्पा …


कार्यक्रम के अंत में अतिथियों को स्मृति चिन्ह देकर धन्यवाद ज्ञापित किया और राष्ट्रगान के साथ “दीक्षारम्भ” समारोह का समापन किया गया ।


Read More :- “राष्ट्रीय खेल दिवस”: श्री रावतपुरा सरकार विश्वविद्यालय के शिक्षक और छात्रों ने मिलकर खेले कई खेल…


श्री रावतपुरा सरकार लोक कल्याण ट्रस्ट के उपाध्यक्ष डॉ. जे. के. उपाध्याय ने विश्वविद्यालय के प्रति कुलाधिपति हर्ष गौतम, कुलपति प्रो डॉ. एस. के सिंह, कुलसचिव प्रभारी मनोज कुमार सिंह, सभी स्टाफ और छात्रों को दीक्षारम्भ के लिए शुभकामनाएं देते हुए उज्जवल भविष्य की कामना की….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *