बारिश : छत्तीसगढ़ के इन जिलों में आज हो सकती है बारिश, जारी हुई चेतावनी…

0

छत्तीसगढ़ में एक जून से लेकर 25 अगस्त तक 1007.7 मिमी वर्षा हुई है, जो सामान्य से 15 प्रतिशत अधिक है। प्रदेश में सर्वाधिक वर्षा बीजापुर में 2064 मिमी हुई है, जो सामान्य से 100 प्रतिशत ज्यादा है। साथ ही सबसे कम वर्षा सरगुजा में 484.1 मिमी हुई है, जो सामान्य से 48 प्रतिशत कम है। मौसम विभाग का कहना है कि मानसून द्रोणिका के प्रभाव से शुक्रवार को भी प्रदेश के बहुत से क्षेत्रों में भारी वर्षा के आसार हैं। साथ ही बिजली भी गिर सकती है। विभाग का कहना है कि अधिकतम व न्यूनतम तापमान में भी गिरावट आएगी।

Read More:-भारत का श्रम मंत्रालय अमृत काल में वर्ष 2047 के लिए कर रहा अपना विजन तैयार- पीएम मोदी…

बता दें की कल सुबह से ही रायपुर सहित प्रदेश के विभिन्ना क्षेत्रों में आंशिक रूप से बादल छाए रहे। कुछ क्षेत्रों में हल्की से मध्यम वर्षा भी हुई। हालांकि अधिकतम व न्यूनतम तापमान में कोई विशेष बदलाव नहीं हुआ। मौसम विभाग का कहना है कि मौसम का मिजाज फिर से बदल रहा है और प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में भारी वर्षा के भी आसार बने हैं।

गुरुवार को रायपुर का अधिकतम तापमान 32.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से दो डिग्री सेल्सियस अधिक है। इसी प्रकार न्यूनतम तापमान 22.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से दो डिग्री सेल्सियस कम है। प्रदेश में सर्वाधिक अधिकतम तापमान एडब्ल्यूएस महासमुंद में 33.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। कांसाबेल 13 सेमी, कुनकुरी 11 सेमी, तखतपुर-अंबिकापुर-दलदुला 9 सेमी, बागीचा 8 सेमी, तपकरा-कोटा 6 सेमी वर्षा हुई। इन क्षेत्रों के साथ ही प्रदेश के विभिन्ना क्षेत्रों में हल्की से मध्यम वर्षा हुई।

Read More:-फैंस की दुआएं लाई रंग, मशहूर कॉमेडियन राजू श्रीवस्तव को 15 दिन बाद आया होश…

मौसम विशेषज्ञ एचपी चंद्रा ने बताया कि मानसून द्रोणिका के प्रभाव से प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में भारी वर्षा होने के आसार हैं। साथ ही कुछ क्षेत्रों में बिजली गिर सकती है। इसके साथ ही आने वाले दो दिनों में भी प्रदेश में मौसम का मिजाज इस प्रकार ही रहेगा।

Read More:-श्री रावतपुरा सरकार विश्वविद्यालय में कैम्पस प्लेसमेंट, हुआ छात्रों का चयन….

 

srigo


 


 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *