July 13, 2024

भारत की स्टार जोड़ी सात्विक साइराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी ने पेरिस ओलिंपिक में दिखाया दम…

0

बैंकॉक। भारत की स्टार जोड़ी सात्विक साइराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी ने पेरिस ओलिंपिक की तैयारियों में दम दिखाया । जिसमे शानदार प्रदर्शन करते हुए चीन के लियू यि और चेन बो यांग को हराकर थाईलैंड ओपन सुपर 500 बैडमिंटन पुरूष युगल खिताब जीत लिया। दुनिया की तीसरे नंबर की जोड़ी ने 29वीं रैंकिंग वाली विरोधी टीम पर 21-15, 21-15 से जीत दर्ज की। एशियाई खेलों की चैंपियन जोड़ी का यह सत्र का दूसरा और करियर का नौवां बीडब्ल्यूएफ विश्व टूर खिताब है। जो मार्च में फ्रेंच ओपन सुपर 750 खिताब जीता था। दोनों मलेशिया सुपर 1000 और इंडिया सुपर 750 में उपविजेता रहे।

थाईलैंड ओपन में एक भी गेम गंवाए बिना पंहुचे फाइनल

इस जोड़ी ने एक भी गेम गंवाए बिना थाईलैंड ओपन फाइनल में अपनी जगह बनाई। लियू और चेन ने भी फाइनल तक के सफर में शानदार प्रदर्शन किया, लेकिन भारतीय जोड़ी के शानदार प्रदर्शन का उनके पास कोई जवाब नहीं रहा। सात्विक और चिराग ने जल्दी ही 5-1 की बढत बना ली, इसके बाद चेन और लियू ने लगातार चार अंक लेकर वापसी की। जब स्कोर 7-7 था तब चीनी जोड़ी ने 39 शॉट की रेली लगाई और 10-7 से बढत बना ली, उन्होंने कुछ लंबी रेलियां लगाई, लेकिन चिराग ने तूफानी रिटर्न के जरिए स्कोर 10-10 कर लिया।


भारतीय जोड़ी ने लगातार पांच अंक लेकर जीता गेम

सात्विक और चिराग ने 14-11 की बढ़त बनाई। यह बढ़त जल्दी ही 16-12 की हो गई। चीनी जोड़ी ने तीन अंक बनाए, लेकिन इसके बाद भारतीय जोड़ी ने लगातार पांच अंक लेकर गेम जीत लिया। दूसरे गेम में भारतीय जोड़ी ने 8-3 के साथ शुरूआत की और ब्रेक तक पांच अंक की बढत बनाए रखी। चेन और लियू ने तीन अंक लगातार बनाए, लेकिन सात्विक ने उनकी लय तोड़ी। जब स्कोर 15-11 था तब सात्विक को खेल में विलंब करने पर चेतावनी मिली और चिराग ने दो अंक गंवाए, जिससे चीनी जोड़ी ने 15-14 की बढ़त बनाई। भारतीय जोड़ी ने हालांकि इसके बाद शानदार प्रदर्शन करते हुए उन्हें फिर कोई मौका नहीं दिया।

ये भी देखे : छत्तीसगढ़ क्रिकेट प्रीमियर लीग 7 जून से होगा शुरू, आईपीएल की तर्ज पर होगा मैच…

सीजन का दूसरा खिताब जीता

पेरिस ओलंपिक की तैयारियां पुख्ता करते हुए दुनिया की तीसरे नंबर की भारतीय जोड़ी सात्विक-चिराग ने 29वीं रैंकिंग वाली विरोधी टीम पर फाइनल में 21-15, 21-15 से जीत दर्ज की। मार्च में फ्रेंच ओपन सुपर 750 खिताब जीता था। दोनों मलेशिया सुपर 1000 और इंडिया सुपर 750 में उपविजेता रहे थे। सात्विक और चिराग ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप में दूसरे दौर में हार गए थे। इसके बाद सात्विक की चोट के कारण एशियाई चैंपियनशिप नहीं खेल सके। थॉमस कप में भी वे अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए थे।  फिर कहा हमने 2019 में यहां पहली बार सुपर सीरीज और फिर थॉमस कप जीता था।

_Advertisement_
_Advertisement_
_Advertisement_

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इन्हें भी पढ़े