June 21, 2024

श्री रावपतपुरा सरकार यूनिवर्सिटी में शैक्षणिक सत्र 2023-24 का उद्घाटन समारोह ,सभी छात्रों का किया स्वागत…

0

रायपुर।। श्री रावपतपुरा सरकार यूनिवर्सिटी में 28 जून 2023 को शैक्षणिक सत्र 2023-24 की शुरुआत के लिए उद्घाटन समारोह का आयोजन किया गया। शैक्षणिक सत्र के उद्घाटन समारोह की शुरुआत सुबह गणेश जी और ज्ञान की देवी सरस्वती माँ की पूजा और अर्चना के साथ की गई ततपश्चात उद्घाटन सत्र कार्यक्रम दीप प्रज्जवलन एवं राजकीय गीत के साथ प्रारंभ किया गया। कार्यक्रम में छात्रों को मार्गदर्शित करने के लिए मुख्य अतिथि रूप में इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी भिलाई के निदेशक प्रोफेसर राजीव प्रकाश उपस्थित हुए साथ ही यूनिवर्सिटी के कुलपति डाॅ. एस. के. सिंह एवं कुलसचिव प्रभारी प्रो. विजय कुमार सिंह, डीन एकेडेमिक प्रोफेसर आरआरएल बिराली एवं सभी डीन, विभागा अध्यक्ष, प्रोफेसर एवं छात्र- छात्राएं शामिल हुई।

_Advertisement_

_Advertisement_

Read More:-रावतपुरा के 3 छात्रों का मैकलियोड्स फार्मा कंपनी में हुआ प्लेसमेंट ….

यूनिवर्सिटी के कुलपति डाॅ. एस. के. सिंह ने अपने उद्बोधन में सबसे पहले सभी छात्रों एवं मुख्य अतिथि का स्वागत किया और कहा कि हम सभी को गर्व हो रहा है कि आप सभी आज यहां मौजूद हैं, जहां हम एक नये शैक्षणिक सत्र 2023-24 का उद्घाटन करने जा रहे हैं। यह उत्सव हमारे लिए एक महत्वपूर्ण क्षण है, क्योंकि इससे हमारा शिक्षा का सफर एक नई दिशा पर आरम्भ होगा। इस उद्घाटन समारोह के माध्यम से, हम अपनी यूनिवर्सिटी और उसकी बढ़ती हुई गरिमा से छात्रों को ज्ञान के प्रति जागरूक करना चाहते हैं। हमारी यूनिवर्सिटी की यह विशेषता है कि हम छात्रों के सभी पहलुओं को ध्यान में रखते हुए उन्हें भविष्य के प्रति शिक्षित कर रहे हैं। उन्होंने पं. मदन मोहन मालवीय के कुछ महत्वपूर्ण निर्णयों को याद करते हुए कहा कि “एक शैक्षणिक संस्थान का मुख्य कार्य न केवल सीखने की शक्ति का निर्माण या विकास करना है, बल्कि छात्रों की मानसिक शक्ति को बढ़ाकर उन्हें डॉक्टर, वैज्ञानिक एवं सामाजिक कार्यकर्ता बनना है।”

_Advertisement_

 


Read More:-एसआरयू में योग विषय पर तीन दिवसीय राष्ट्रीय कार्यशाला का किया गया आयोजन, योग की वैश्विक लोकप्रियता को दर्शाते हुए प्रतिभागियों ने किया विभिन्न योगासनों का अभ्यास…

मुख्य अतिथि प्रो. राजीव प्रकाश ने कहा कि शैक्षणिक सत्र 2023-24 सभी छात्रों के लिए नए संभावनाओं, नए सपनों और नए उद्देश्यों का आगमन है। यह एक यात्रा है जो सभी छात्रों को नये ज्ञान की गहराइयों और नवीनतम विचारों के साथ परिचित कराएगी। हम एक नए सत्र की शुरुआत करते हैं जहां हर छात्र को स्वतंत्रता और समानता के माध्यम से उच्चतम स्तर की शिक्षा दी जाती हैं। उन्होंने कहा कि, शिक्षक बिल्कुल माता-पिता के समान होते हैं और हमारे जीवन के पहले शिक्षक हमारे माता-पिता ही होते हैं, इसलिए छात्रों को अपना ज्ञान प्राप्त करने के लिए शिक्षकों पर विश्वास रखना चाहिए क्योंकी शिक्षक आपकी ज्ञान की क्षमता को निखारते हैं। उन्होंने कहा कि छात्र न केवल अपने और अपने परिवार के बारे में सोचें, बल्कि समाज और राष्ट्र पर भी ध्यान दें क्योंकि हमारे देश में हर क्षेत्र में बहुत संभावनाएं हैं। छात्रों को ज्ञान प्राप्त करने की क्षमता का एहसास करना चाहिए और अध्ययन के हर क्षेत्र में सफलता पाने के लिए बहुत संभावनाएं और गुंजाइश हैं, लेकिन इसके लिए छात्रों को कड़ी मेहनत की आवश्यकता है।

उद्घाटन समारोह के अंत में कुलसचिव प्रो. प्रभारी विजय कुमार सिंह ने धन्यवाद ज्ञापित किया और राष्ट्र गान के साथ समारोह संपन्न हुआ साथ ही विश्वविद्यालय के प्रतिकुलाधिपति श्री हर्ष गौतम ने सभी छात्रों को उज्ज्वल भविष्य के लिए शुभकामनाएँ दी…


 

Read More:-श्री रावतपुरा सरकार इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंसेस एंड रिसर्च में मनाया गया योग दिवस…

 


 


 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इन्हें भी पढ़े