June 21, 2024

बघेल सरकार ने कोल माफियाओं पर लिया बड़ा एक्शन, 19 कोयला वाशरियों में छापेमारी…

0

प्रदेश सरकार ने कोल माफियाओं पर बड़ा एक्शन लिया है। सरकार के चार विभागों की संयुक्त टीम ने कोयला चोरी, हरित नियमों के उल्लंघन और रॉयल्टी चोरी की शिकायतों के बाद बुधवार को राज्य के 19 कोयला वाशरियों में छापेमारी की गई। वहीं एक अधिकारी ने कहा कि खनिज, राजस्व, पर्यावरण और वस्तु एवं सेवा कर विभागों के कुल 50 कर्मियों वाली दस टीमें देर शाम तक चल रहे अभियान में शामिल थीं। बयान के अनुसार राज्य के कोरबा, बिलासपुर, जांजगीर-चांपा और रायगढ़ जिलों में कम से कम 19 कोयला वाशरी में छापेमारी की गई। इनके खिलाफ प्राप्त शिकायतों के आधार पर कार्रवाई की गई।

_Advertisement_

Read More:-छत्तीसगढ़ : स्कूलों में होगी राज्यगीत से होगी प्रार्थना की शुरुआत, जारी हुआ निर्देश…

सरकारी विज्ञप्ति में छापे को कोयला माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई करार दिया है। अधिकारियों ने बताया कि पिछले डेढ़ महीने से इन सुविधाओं के खिलाफ कोयला चोरी, हरित नियमों के उल्लंघन, रॉयल्टी चोरी और कर चोरी की शिकायतें मिल रही थीं।अधिकारी ने कहा कि जीएसटी विभाग ने इन परिसरों से दस्तावेज भी जब्त किए हैं, उन्होंने कहा कि कार्रवाई का विवरण बाद में साझा किया जाएगा। अधिकारियों के अनुसार, जिन वाशरीज पर छापा मारा गया उनमें इंडस उद्योग प्राइवेट लिमिटेड और सत्या पावर कोल वाशरी शामिल हैं, जो सूर्यकांत तिवारी, एसीबी प्राइवेट लिमिटेड और हिंद एनर्जी की हैं।

_Advertisement_

Read More:-आसियान फेलोशिप योजना : 65 छात्रों का चयन, करेंगे आईआईटी में पीएचडी…

बता दें की इससे पहले कोल माफिया को लेकर राज्य में जमकर सियासी बवाल मचा था. राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने एक दिन पहले ही कांग्रेस सरकार पर कोल माफिया को संरक्षण देने का आरोप लगाया था। उन्होंने 5 जुलाई मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा है की ‘कोयले में हो रही गड़बड़ी को लेकर 10 बार प्रेस कॉन्फ्रेंस कर चुका हूं। ये सरकार खुलेआम प्रति टन 25 रुपए लेने का काम कर रही है. ये बच्चा-बच्चा जनता है। यह सरकार पूरी तरह से भ्रष्टाचार में लिप्त है, यह सरकार सत्ता में रहने का नैतिक अधिकार खो चुकी है।’ इधर आज राज्य सरकार ने कोयले का काम कर रहे लोगों पर बड़ा एक्शन ले लिया।

_Advertisement_

Read More:-सास्कृतिक कार्यक्रमों के साथ हुआ श्री रविशंकर जी महाराज का 54 वां प्राकट्य महोत्सव…

resistration open 2022-23


 


 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इन्हें भी पढ़े