June 21, 2024

अग्निपथ स्कीम: पहले साल युवाओं को 30 हजार की सैलरी, 48 लाख का बीमा, 4 साल की नौकरी- रक्षामंत्री राजनाथ सिंह…

0

देश में युवाओं के लिए अग्निपथ योजना की घोषणा करते हुए रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि इससे इम्‍प्‍लॉयमेंट अपॉर्चुनिटीज़ बढ़ेंगी। अग्निवीर सेवा के दौरान अर्जित स्क्ल्सि और एक्‍सपीरिएंट से उन्हें विभिन्न क्षेत्रों में इम्‍प्‍लॉयमेंट प्राप्त होंगे। अग्निपथ योजना के अंतर्गत यह प्रयास किया जा रहा है, कि भारतीय सशस्त्र बल का प्रोफाइल उतना ही यूथफुल हो, जितना विस्‍तृत देश की जनसंख्‍या का प्रोफाइल है।

_Advertisement_

join whatsapp

_Advertisement_

 

_Advertisement_

Read More:-श्री रावतपुरा सरकार विश्वविद्यालय में कैम्पस प्लेसमेंट, पत्रकारिता एवं जनसंचार के पाँच विद्यार्थियों का चयन…

अग्निवीर के लिए आवश्यक मापदण्ड-

अग्निपथ स्‍कीम में भर्ती के लिए युवाओं की आयु 17 साल 6 महीने से 21 महीने के बीच होनी जरूरी होगी। युवाओं को ट्रेनिंग पीरियड समेत कुल 4 वर्षों के लिए आर्म्‍ड सर्विसेज़ में सेवा का मौका मिलेगा। भर्ती सेना के तय नियम के अनुसार ही होगी।

इतना होगा एनुअल पैकेज अग्निवीरों के लिए सरकार ने एक सेवानिधी की घोषणा की है। इसमें पहले साल युवाओं को 30 हजार रुपये मासिक पे पर रखा जाएगा। EPF/PPF की सुविधा के साथ अग्निवीर पहले साल 4.76 लाख रुपये पाएंगे। चौथे साल तक वेतन 40 हजार रुपये यानी सालाना 6.92 लाख रुपये पाएंगे।

Read More:-श्री रावतपुरा सरकार विश्वविद्यालय में “यूनिवर्सिटी गवर्नेंस” पर वर्कशॉप का आयोजन…

पैकेज के साथ मिलेंगे ये भत्‍ते एनुएल पैकेज के साथ कुछ भत्‍ते भी मिलेंगे जिसमें रिस्‍क एंड हार्डशिप, राशन, ड्रेस और ट्रैवल एलाउंस शामिल होंगे। सेवा के दौरान डिसेबल होने पर नॉन-सर्विस पीरियड का फुल पे और इंट्रेस्‍ट भी मिलेगा। ‘सेवा निधि’ को आयकर से छूट दी जाएगी। अग्निवीर ग्रेच्युटी और पेंशन संबंधी लाभों के हकदार नहीं होंगे। अग्निवीरों को भारतीय सशस्त्र बलों में उनकी अवधि के लिए 48 लाख रुपये का गैर-अंशदायी जीवन बीमा कवर प्रदान किया जाएगा।

ट्रेनिंग के बाद मिलेगा सर्टिफिकेट राष्ट्र की सेवा की इस अवधि के दौरान, अग्निवीरों को विभिन्न सैन्य कौशल और अनुभव, अनुशासन, शारीरिक फिटनेस, नेतृत्व गुण, साहस और देशप्रेम की ट्रेनिंग प्रदान की जाएगी। चार साल के इस कार्यकाल के बाद, अग्निवीरों को नागरिक समाज में शामिल किया जाएगा जहां वे राष्ट्र निर्माण की प्रक्रिया में योगदान दे सकते हैं। प्रत्येक अग्निवीर द्वारा प्राप्त कौशल को उसके यूनीक बायोडाटा का हिस्सा बनने के लिए एक प्रमाण पत्र दिया जाएगा।

Read More:-श्री रावतपुरा स्कूल कुम्हारी में NEP के क्रियान्वयन पर शिक्षक प्रशिक्षण सत्र…

ट्रेनिंग के बाद मिलेगा सर्टिफिकेट राष्ट्र की सेवा की इस अवधि के दौरान, अग्निवीरों को विभिन्न सैन्य कौशल और अनुभव, अनुशासन, शारीरिक फिटनेस, नेतृत्व गुण, साहस और देशप्रेम की ट्रेनिंग प्रदान की जाएगी। चार साल के इस कार्यकाल के बाद, अग्निवीरों को नागरिक समाज में शामिल किया जाएगा जहां वे राष्ट्र निर्माण की प्रक्रिया में योगदान दे सकते हैं। प्रत्येक अग्निवीर द्वारा प्राप्त कौशल को उसके यूनीक बायोडाटा का हिस्सा बनने के लिए एक प्रमाण पत्र दिया जाएगा।

4 साल बाद सेना भर्ती के लिए वॉलेंटियर करने का भी मौका सेना 25 फीसदी अग्निवीरों ने रिटेन भी करेगी जो निपुण और सक्षम होंगे। हालांकि, ये भी तभी संभव होगा अगर उस समय सेना में भर्तियां निकलीं हों। इसके लिए 4 साल का कार्यकाल पूरा कर चुके अग्निवीर वॉलेंटियर कर सकेंगे। इस प्रोजेक्ट का कारण सेना को करोड़ों रुपये की बचत भी हो सकती है।

Read More:-Earthquake : मेघालय में भूकंप के झटके, रिक्टर पर आंकी गई 4.0  तीव्रता…


 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इन्हें भी पढ़े