June 21, 2024

World environment day : विश्व पर्यावरण दिवस मनाने का क्या है महत्व?…

0

World Environment Day :  पर्यावरण की सुरक्षा को लेकर जागरुक करने के उद्देश्य से हर वर्ष पांच जून को विश्व पर्यावरण दिवस मनाया जाता है।कई सरकारी, गैर सरकारी संगठन आदि इस दिन लोगों को पर्यावरण की सुरक्षा को लेकर जागरुक करते हैं। प्राकृतिक संसाधनों के दोहन और मानव जीवनशैली के लिए इनके गलत उपयोग से पर्यावरण लगातार प्रदूषित होता चला जा रहा है। दूषित पर्यावरण उन घटकों को प्रभावित करता है, जो जीवन जीने के लिए आवश्यक हैं। ऐसे में पर्यावरण के प्रति लोगों को जागरूक करने, प्रकृति और पर्यावरण का महत्व समझाने के उद्देश्य से हर साल विश्व पर्यावरण दिवस मनाते हैं।

_Advertisement_

_Advertisement_

क्या है पर्यावरण दिवस का इतिहास?

पर्यावरण का अर्थ है संपूर्ण प्राकृतिक परिवेश से जिसमें हम रहते हैं। जिसमें हमारे चारों ओर के सभी जीवित और निर्जीव तत्व शामिल होते हैं, जैसे कि हवा, पानी, मिट्टी, पेड़-पौधे, जानवर और अन्य जीव-जंतु। पर्यावरण में जो घटक होते है वह  परस्पर एक-दूसरे के साथ जुड़कर एक समग्र पारिस्थितिकी तंत्र का निर्माण करते हैं। पर्यावरण दिवस मनाने की शुरुवात  1972 में की गयी । जब संयुक्त राष्ट्र संघ ने पहला पर्यावरण दिवस मनाया है और हर साल इस दिन को मनाने का एलान किया।

_Advertisement_

5 जून को ही क्यों मनाते हैं पर्यावरण दिवस?

पहला पर्यावरण सम्मेलन 5 जून 1972 को मनाया गया था, जिसमें 119 देशों ने भाग लिया था। स्वीडन की राजधानी स्टाॅकहोम में सम्मेलन हुआ। संयुक्त राष्ट्र महासभा ने मानव पर्यावरण पर स्टाॅकहोम सम्मेलन के पहले दिन को चिन्हित करते हुए 5 जून को पर्यावरण दिवस के तौर पर मनाने की शुरुवात हुई।

क्या है महत्व?

भारत समेत पूरे विश्व में प्रदूषण तेजी से फैल रहा है। बढ़ते प्रदूषण के कारण प्रकृति खतरे में हैं। प्रकृति जीवन जीने के लिए किसी भी जीव को हर जरूरी चीज उपलब्ध कराती है। ऐसे में अगर प्रकृति प्रभावित होगी तो जीवन प्रभावित होगा। प्रकृति को प्रदूषण से बचाने के उद्देश्य से पर्यावरण दिवस मनाने की शुरुआत हुई। इस दिन लोगों को पर्यावरण के प्रति जागरूक किया जाता है और प्रकृति को प्रदूषण होने से बचाने के लिए प्रेरित किया जाता है।

इस वर्ष की थीम 2024

विश्व पर्यावरण दिवस पर प्रतिवर्ष एक खास थीम होती है। जिसमे पिछले वर्ष 2023 की थीम “Solutions to Plastic Pollution” थी। यह थीम प्लास्टिक प्रदूषण के समाधान पर आधारित है। इस साल विश्व पर्यावरण दिवस 2024 की थीम “Land Restoration, Desertification And Drought Resilience” है। इस थीम का फोकस ‘हमारी भूमि’ नारे के तहत भूमि बहाली, मरुस्थलीकरण और सूखे पर केंद्रित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इन्हें भी पढ़े