खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2024 के छठे संस्करण में देश भर के एथलीटों के बीच रही प्रतिस्पर्धा…

0

खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2024 :  भारत सरकार की खेलो इंडिया पहल के तहत एक प्रमुख इवेंट है। खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2024 का छठा संस्करण 31 जनवरी, 2024 को पूरा हुआ। जिसके लिए पूरे देश भर से आए 5,600 से अधिक एथलीटों ने खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2024 में 19 से 31 जनवरी तक प्रतिस्पर्धा किया। तमिलनाडु ने KIYG 2024 की मेज़बानी की जहां चार शहरों – चेन्नई, मदुरै, त्रिची और कोयंबटूर में खेल कार्यक्रम आयोजित किया गया।

स्वर्ण व रजत पदक के लिए रही प्रतिस्पर्धा

साल 2024 तमिलनाडु में 26 खेलों में एथलीटों ने कुल 933 पदक के लिए प्रतिस्पर्धा किया, जिसमें 278 स्वर्ण, 278 रजत और 377 कांस्य शामिल थे। स्क्वैश इस साल खेलो इंडिया यूथ गेम्स में अपना पदार्पण किया, जबकि सिलंबम जो स्वदेशी मार्शल आर्ट का एक रूप है, उसे एक प्रदर्शन खेल के रूप में प्रदर्शित किया गया। पिछले साल एशियाई खेलों में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाली तेलंगाना की तैराक वृत्ति अग्रवाल KIYG 2024 में शीर्ष प्रदर्शन करने वालों में से एक थीं। 17 वर्षीय तैराक ने महिलाओं की 200 मीटर बटरफ्लाई और फ्रीस्टाइल में शीर्ष स्थान हासिल करके पांच व्यक्तिगत स्वर्ण पदक जीते। उन्होंने 200 मीटर, 800 मीटर, 400 मीटर और 1500 मीटर इवेंट में मेडल अपने नाम किए।


खेलो इंडिया यूथ गेम्स में खेल प्रतिभा दिखाने के लिए एक नया मंच

इस खेल की पहल से पिछले तीन वर्षों में भारतीय युवाओं को अपनी खेल प्रतिभा दिखाने के लिए एक नया मंच मिला है। खेलो इंडिया को भारत सरकार ने साल 2017 में जमीनी स्तर पर बच्चों के साथ जुड़कर भारत में खेल की भावना को पुनर्जीवित करने के लिए शुरु किया था। इस पहल ने विभिन्न खेलों के लिए देश भर में खेल के बेहतर बुनियादी ढांचे और विभिन्न खेल अकादमी के निर्माण पर भी ध्यान केंद्रित किया।इस दौरान खेलो इंडिया यूथ गेम्स अपने राज्यों और विश्वविद्यालयों का प्रतिनिधित्व करने वाले युवाओं ने अपने कौशल का प्रदर्शन किया है और पदकों के लिए प्रतिस्पर्धा की है। इस आयोजनों में प्रतिस्पर्धा करने वाले कुछ बड़े नामों में दुती चंद और तीरंदाज पार्थ सालुंखे और कोमलिका बारी शामिल हैं।

सर्वप्रथम कब से हुई शुरुआत

नई दिल्ली में आयोजित 2018 में खेलो इंडिया स्कूल गेम्स के साथ इस पहल की शुरुआत हुई। इस पहल को बड़ी सफलता तब मिली, जब भारतीय ओलंपिक संघ उस साल के अंत में इस पहल से जुड़ गया और खेलो इंडिया स्कूल गेम्स का नाम बदलकर 2019 से खेलो इंडिया यूथ गेम्स कर दिया गया। साल 2019 का संस्करण पुणे में हुआ था। खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स का पहला संस्करण 2020 में कलिंगा इंस्टीट्यूट ऑफ इंडस्ट्रियल टेक्नोलॉजी, ओडिशा में आयोजित किया गया था।

खेलो इंडिया विंटर गेम्स (KIWG) के तीन संस्करण कश्मीर के लेह, लद्दाख और गुलमर्ग में आयोजित किए गए हैं। खेलो इंडिया विंटर गेम्स का पहला संस्करण साल 2020 में आयोजित किया गया था। खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स के दूसरे संस्करण में 20 खेल शामिल थे, जिनमें दो स्वदेशी खेल, योग और मलखंब को भी प्रोग्राम में जोड़ा गया। गुवाहाटी में 16 स्पर्धाएं आयोजित की जाएंगी। इनमें एथलेटिक्स, रग्बी, बॉस्केटबॉल, वॉलीबॉल, तैराकी, बैडमिंटन, हॉकी, तलवारबाजी, कबड्डी, महिला फुटबाल, टेनिस, मल्लखंभ, जूडो और टेबल टेनिस शामिल हैं।

खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2024 में ऐसी रही प्रतिस्पर्धा 

भारत सरकार की खेलो इंडिया पहल के तहत एक प्रमुख इवेंट है। KIYG 2024 का छठा संस्करण 31 जनवरी, 2024 को पूरा हुआ। पूरे देश से आए 5,600 से अधिक एथलीटों ने 19 से 31 जनवरी तक प्रतिस्पर्धा किया। तमिलनाडु ने KIYG 2024 की मेज़बानी की जहां चार शहरों – चेन्नई, मदुरै, त्रिची और कोयंबटूर में खेल कार्यक्रम आयोजित किया गया था। खेलो इंडिया यूथ गेम्स एक टीम चैंपियनशिप प्रारूप में संचालित होते हैं, जिसमें व्यक्तिगत एथलीटों या टीमों द्वारा अर्जित पदक उनके संबंधित राज्य या केंद्र शासित प्रदेश की समग्र पदक तालिका में जोड़े जाते हैं।

KIYG 2024 में भारत के सभी 36 राज्य और केंद्र शासित प्रदेश हिस्सा लेते हैं। मेज़बान तमिलनाडु के पास 559 एथलीटों के साथ सबसे बड़ा दल था। मौजूदा चैंपियन महाराष्ट्र 415 एथलीटों के साथ मैदान में था। दो बार के चैंपियन हरियाणा ने 491 एथलीटों के साथ शिरकत किया ।  महाराष्ट्र ने भोपाल, मध्य प्रदेश में आयोजित KIYG का पिछला संस्करण 161 की कुल पदक संख्या के साथ जीता था जिसमें 56 स्वर्ण, 55 रजत और 50 कांस्य शामिल थे। महाराष्ट्र और हरियाणा को छोड़कर किसी भी अन्य टीम ने आज तक KIYG का खिताब नहीं जीता है।

खेलो इंडिया पहल के तहत इवेंट का छठा संस्करण रहा सफल

यह भारत सरकार की खेलो इंडिया पहल के तहत प्रमुख इवेंट का छठा संस्करण होगा, जो देश में जमीनी स्तर पर खेलों को बढ़ावा देता है।KIYG 2024 में ओलंपिक, गैर-ओलंपिक और साथ ही स्वदेशी गेम्स में पूरे देश से 5000 से अधिक एथलीट हिस्सा लेंगे। सिलंबम – भारतीय मार्शल आर्ट का एक रूप – को KIYG 2024 के कार्यक्रम में एक डेमो खेल के रूप में शामिल किया गया है।

खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2024 चार शहरों चेन्नई, कोयंबटूर, मदुरै और त्रिची में आयोजित किए जाएंगे। प्रतियोगिताएं अंडर-18 आयु वर्ग में आयोजित की जाएंगी।खेलो इंडिया यूथ गेम्स एक टीम चैंपियनशिप के फॉर्मेट में संचालित होते हैं, जिसमें व्यक्तिगत एथलीटों या टीमों द्वारा अर्जित पदक उनके संबंधित राज्य या केंद्र शासित प्रदेश (UT) की ओवरऑल पदक तालिका में योगदान करते हैं। इवेंट के समापन पर, सबसे अधिक स्वर्ण पदक हासिल करने वाले राज्य या केंद्रशासित प्रदेश को विजेता घोषित किया जाता है।

खेलों इंडिया यूथ गेम्स के चैंपियन महाराष्ट्र 57 स्वर्ण पदकों के साथ KIYG 2024 पदक तालिका में शीर्ष पर रहा। तमिलनाडु 38 स्वर्ण के साथ दूसरे स्थान पर रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इन्हें भी पढ़े