June 23, 2024

दिमाग के लिए फायदेमंद है पर्पल फूड्स, डाइट में जरुर करे शामिल…

0

सेहत का ख्याल रखना आज के समय में बहुत आवश्यक है क्योकि बढ़ते हुए प्रदूषण और जनसंख्या के साथ बीमारियों का भी ख़तरा बढ़ता जा है और ऐसे में संतुलित आहार भी अपने डाइट शामिल करना चाहिए जो बीमारियों से बचाव में मदद कर सकें। पर्पल फूड्स इसका बेहतरीन उदाहरण है जो सेहत से जुड़ी कई परेशानियों को दूर करने में मदद करते हैं। इसलिए अपनी डाइट में पर्पल फूड आइटम्स को शामिल करना जरूरी है।

_Advertisement_

डायबिटीज व हाई ब्लड प्रेशर में है फ़ायदेमंद

हमारी सेहत को दुरुस्त रखने के लिए हमारी डाइट का हेल्दी होना बेहद आवश्यक है। साथ ही शरीर के लिए सभी आवश्यक पोषक तत्व, जो हमारे खान-पान की मदद से ही हमें मिलता है। बदलती जीवनशैली की वजह से, वैसे भी हम प्रकार के बीमारियों का शिकार आसानी से हो जाते हैं। डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर, दिल की बीमारियां, इन सभी के बढ़ते मामलों के बीच अपनी डाइट को हेल्दी रखना और अधिक आवश्यक हो गया है। इसलिए हमें अपने खान-पान में ऐसे फूड आइटम्स को शामिल करना चाहिए, जो बीमारियों से बचाव में आपकी मदद कर सकें।

_Advertisement_

_Advertisement_

शरीर को हेल्दी रखने के लिए खाने में अलग – अलग प्रकार की फल और सब्जियों को शामिल करना बेहद आवश्यक है। अलग-अलग रंग के होने की वजह से इसे रेनबो डाइट भी कहा जाता है। रेनबो के रंगों में से एक रंग पर्पल, आपकी सेहत के लिए किसी वरदान से कम नहीं होता। इस रंग के फल और सब्जियों को अपनी डाइट में शामिल करने के कई फायदे हैं, जो बीमारियों से बचाव में मददगार हैं। क्या है पपर्ल कलर के फल और सब्जियों को डाइट में शामिल करने के फायदे।

पर्पल फूड के फायदे

फल और सब्जियों में पर्पल रंगका होना एक बेहद ही खास पिगमेंट की वजह से मिलता है। जिसका नाम है, एंथोसायनिन । एंथोसायनिन एक केमिकल है, जो सभी गहरे  जैसे – लाल, नीले और बैंगनी फलों और सब्जियों में पाए जाते हैं। यह एक प्रकार का एंटी-ऑक्सीडेंट होता है, जो सेहत के लिहाज से हमारे लिए काफी फायदेमंद होता है। इसलिए अपनी डाइट में पर्पल फूड्स को शामिल करना बेहद फायदेमंद हो सकता है। इसकी मदद से दिल की बीमारियों से बचाव, ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने, नर्वस सिस्टम को हेल्दी रखने और कैंसर जैसी गंभीर बीमारी के जोखिम को कम करने में काफी मददगार साबित होती है। इन फूड्स में पर्पल पत्ता गोभी, ब्लैकबेरी, बैंगन, चुकंदर, प्लम, अंजीर, काले अंगूर आदि शामिल हैं।

दिल के लिए है फायदेमंद

दिल को हेल्दी रखने के लिए यह जरूरी हो जाता है कि कोलेस्ट्रोल और हाई ब्लड प्रेशर जैसी फैक्टर्स को कंट्रोल में रखा जाए । एंथोसायनिन, बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करने और गुड कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने में मदद करता है। इससे आर्टरीज में इकट्ठा प्लेग साफ होता है और वे ब्लॉक नहीं होतीं, जिससे कि ब्लड सर्कुलेशन बेहतर रहता है और दिल बेहतर तरीके से काम कर पाता है।

ब्लड प्रेशर को करता है कंट्रोल

ब्लड प्रेशर की अधिकता कई गंभीर बीमारियों के खतरे को बढ़ाता है। इसलिए इसे कंट्रोल करना बेहद जरूरी होता है। एंथोसासयनिन आर्टरीज यानी रक्त धमनियों को स्वसथ रखने में मदद करता है, जिससे रक्त प्रवाह यानी ब्लड सर्कुलेशन के दौरान धमनियों की दीवारों पर अधिक दबाव नहीं पड़ता और ब्लड प्रेशर हाई होने का खतरा कम करता है। इससे स्ट्रोक जैसी गंभीर बीमारी से भी बचाव में काफी मदद मिलती है।

इम्यून सिस्टम को करता है स्ट्रांग

इंफ्लेमेशन की वजह से शरीर में कई परेशानियां हो सकती हैं, जिनमें इम्यून सिस्टम का कमजोर होना, आर्टरीज को नुकसान आदि शामिल हैं। इसलिए पर्पल फूड खाने से सूजन कम होती है, और इम्यून सिस्टम को स्ट्रांग बनाने में मदद करता है । जो इन परेशानियों से बचाव में काफी मददगार साबित होती है। इसकी मदद से सूजन की वजह से होने वाले दर्द को कम करने में भी मदद मिलती है।

कैंसर के जोखिम को कम करता है

ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस वजह होती है सेल डैमेज करने में, जो कैंसर की वजह बन सकते हैं। इसलिए कैंसर के खतरे को कम करने के लिए फ्री-रेडिकल डैमेज को कम करना आवश्यक होता है। एंथोसायनिन एक प्रकार का एंटी-ऑक्सीडेंट होने की वजह से फ्री-रेडिकल डैमेज को कम करता है, जिससे कैंसर का खतरा कम होता है।

दिमाग के लिए फायदेमंद

एंथोसायनिन दिमाग को हेल्दी रखने में काफी मददगार होता है। इसकी मदद से डिमेंशिया के लक्षणों को कम करने में मदद मिलती है। ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होने और इंफ्लेमेशन कम होने की वजह से दिमाग के सेल्स कम डैमेज होते हैं, जिस कारण से न्यूरोलॉजिक डिजीज का खतरा कम होता है। इसलिए  पर्पल फूड को अपने डाइट में शामिल करके कई तरह की होने वाली बीमारियों से बचा जा सकता है और सेहत को दुरुस्त रख सकते है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *