June 23, 2024

भारत की  इन चार दवाओं का हानिकारक प्रभाव, WHO ने जारी किया मेडिकल प्रोडक्ट अलर्ट…

0

भारत की एक दवा कंपनी की कुछ दवाइयों को लेकर WHO ने मेडिकल प्रोडक्ट अलर्ट जारी किया है। विश्व स्वास्थ्य संगठन का कहना है कि मेडेन फार्मास्यूटिकल्स लिमिटेड की सर्दी-खांसी की दवाई की वजह से लोगों को किडनी की बीमारी हो रही है। दावा यह भी किया गया है कि गांबिया में इस दवा की वजह से ही 66 बच्चों की जान चली गई।

_Advertisement_

Read More :- SRGOI : शिक्षा के क्षेत्र में सुनहरा भविष्य, कर सकते है डिप्लोमा, डिग्री या मास्टर्स…


WHO ने कहा है कि कंपनी और रेग्युलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया के साथ  मिलकर जांच की जा रही है। इस मामले में दवा कंपनी ने अपनी कोई प्रतिक्रिया नहीं  दी है। जिन चार दवाओं को लेकर अलर्ट जारी किया गया है वे प्रोमेथाजीन ओरल सल्यूशन, कोफेक्समालीन बेबी कफ सीरप, मेकॉफ बेबी कफ सीरप और मैग्रिप एन कोल्ड कफ सीरप है। कहा गया है कि दवा बनाने वाली कंपनी भी इन प्रोडक्ट की कोई गारंटी नही देती है। लैब में जब जांच की गई तो पता चला कि इनमें डाइथीलीन ग्लाइकोल और एथिलीन ग्लाइकोल की मात्रा बहुत ज्यादा है।

_Advertisement_

Read More :- 2010-20 बैच के पास आउट स्टूडेंट्स के लिए बड़ा मौका, एसआरयु में वंदना ग्लोबल लिमिटेड का ओपन वॉक-इन इंटरव्यू ड्राइव…


रिपोर्ट्स के मुताबिक दवा में इस तत्व के जहरीले प्रभाव की वजह से पेट में दर्द, उल्टी आना, डायरिया, मूत्र में रिकावट, सिरदर्द, दिमाग पर प्रभाव और किडनी पर असर होने लगता है। डब्लूएचओ का कहना है कि जब तक संबंधित देश की अथॉरिटी पूरी तरह से जांच ना कर ले इन दवाओं को इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। इससे दूसरी जानलेवा बीमारियां हो सकती हैं।

_Advertisement_


Read More :- ITI Course : सिर्फ 10th के बाद भी Industrial Training Institute में सुनहरा भविष्य…


 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *