July 12, 2024

विनेश फोगाट ने ग्रां प्री ऑफ स्पेन 2024 में इंडिविजुअल नेचुरल एथलीट मारिया तिउमेरेकोवा को हराकर जीता ख़िताब…

0

मैड्रिड। पेरिस ओलिंपिक जाने वाली भारतीय पहलवान विनेश फोगाट ने शनिवार को यहां स्पेन ग्रां प्री में महिलाओं के 50 किलोवर्ग का स्वर्ण पदक जीता। दो बार की विश्व चैम्पियनशिप कांस्य पदक विजेता विनेश ने फाइनल में मारिया तियुमेरेकोवा को 10-5 से हराकर पहला स्थान हासिल किया। पूर्व में रूस की खिलाड़ी रही मारिया अब तटस्थ खिलाड़ी के तौर पर खेलती है। बुधवार को ऐन मौके पर शेंगेन वीजा पाने वाली विनेश ने तीन मुकाबले जीतकर फाइनल में जगह बनाई। विनेश ने पहले क्यूबा की युस्नेलिस गुजमैन को 12-4 से हराया। इसके बाद कनाडा की मेडिसन पार्क्स को चित किया और सेमीफाइनल में कनाडा की ही कैटी डचाक को 9-4 से मात दी। विनेश इसके बाद 20 दिन की ट्रेनिंग के लिए फ्रांस जाएगी।

फोगाट ने तीन आसान जीत के साथ बनाई फाइनल में जगह

वर्तमान में आगामी ग्रीष्मकालीन खेलों के लिए मैड्रिड में प्रशिक्षण ले रही विनेश ने फाइनल मुकाबले में इंडिविजुअल नेचुरल एथलीट मारिया तिउमेरेकोवा को 10-5 से हराकर अपनी जगह बनाई। मौजूदा राष्ट्रमंडल खेलों की चैंपियन फोगाट ने इससे पहले तीन आसान जीत के साथ फाइनल में जगह बनाई। विनेश ने शुरुआती मुकाबले में मौजूदा पैन अमेरिकन चैंपियन क्यूबा की युस्नेलिस गुजमैन को 12-4 से हराकर जीत के साथ अपने अभियान की शुरुआत की थी।


29 वर्षीय भारतीय पहलवान ने क्वार्टरफाइनल में राष्ट्रमंडल खेल 2022 की रजत पदक विजेता कनाडा की मैडिसन पार्क्स को हराया। इसके बाद सेमीफाइनल में कनाडा की कैटी डचक को 9-4 से शिकस्त दी। फोगाट बुधवार को अंतिम समय में शेंगेन वीजा प्राप्त करने के बाद मैड्रिड पहुंची थीं। बिश्केक में 2024 एशियाई कुश्ती ओलंपिक क्वालीफिकेशन टूर्नामेंट में भारत के लिए पेरिस 2024 ओलंपिक कोटा हासिल करने वाली फोगाट मैड्रिड में अपने प्रशिक्षण कार्यकाल के बाद फ्रांस के बोलोग्ने सुर-मेर के लिए रवाना होंगी।

पेरिस 2024ओलंपिक में महिलाओं के 50 किग्रा वर्ग के लिए करेगी प्रतिस्पर्धा

दो बार की ओलंपियन विनेश फोगाट 26 जुलाई से शुरू होने वाले पेरिस 2024ओलंपिक में महिलाओं के 50 किग्रा वर्ग में प्रतिस्पर्धा करेंगी। उन्होंने टोक्यो 2020 ओलंपिक में 53 किग्रा वर्ग में हिस्सा लिया था, लेकिन बाद में अपनी इंजरी से जूझने के कारण उन्हें इस वर्ग में इन-फॉर्म अंतिम पंघाल के लिए जगह बनानी पड़ी। रियो 2016 में, फोगाट ने महिलाओं के 48 किग्रा में प्रतिस्पर्धा की थी। एशियाई खेलों की कांस्य पदक विजेता अंतिम पंघाल भी यूरोप में मौजूद हैं और हंगरी के टाटा में ओलंपिक प्रशिक्षण केंद्र में ट्रेनिंग ले रही हैं।

पेरिस ओलिंपिक से ठीक पहले विनेश फोगाट को मिला यह गोल्ड मेडल उनके आत्मविश्वास के लिए काफी अच्छा होगा। 29 वर्षीय पूर्व एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता स्पेन में अपने प्रशिक्षण-सह-प्रतियोगिता कार्यकाल के बाद पेरिस खेलों की तैयारी के लिए 20 दिवसीय प्रशिक्षण कार्यकाल के लिए फ्रांस की यात्रा करेंगी। 25 अगस्त 1994 को पैदा हुईं विनेश फोगाट बीते एक साल से लगातार विवादों में बनी हुईं हैं।

_Advertisement_
_Advertisement_
_Advertisement_

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इन्हें भी पढ़े