गर्मी के सीजन में मिलने वाला यह फल है कई बीमारियों के लिए रामबाण औषधि…

0

गर्मी के सीजन में बहुत सारे फल मिलते है, जो हमारे शरीर को कुछ ना कुछ फायदे पहुंचाते हैं। लेकिन  इस सीजन में कुछ ऐसे दुर्लभ औषधीय फल भी पाए जाते है, जो सेहत के हिसाब से बहुत फायदेमंद और खट्टे मीठे स्वाद का होता है जो अधिकतर मेवाड़ के जंगलों में पाया जाता है। और भारत के कुछ हिस्सों में भी पाया जाता है । इस औषधीय फल की सबसे बड़ी खासियत यह होती है कि यह औषधीय जंगली फल गर्मी के सीजन में मात्र 10 से 12 दिन बाजार में बिकने के लिए आता है. जिसका इंतजार लोग साल भर करते हैं।

इस फल का नाम टिमरू है, लेकिन कुछ – कुछ जगहों में इसे तेंदू के नाम से भी जाना जाता है जो बेगू के जंगलों और पहाड़ियों में मिलता है। यह काफी दुर्लभ फल है। पीले और नारंगी रंग में मिलने वाल यह फल गरीबों का फल भी कहलाता है। यह फल गर्मियों के प्रकोप से बचाता है और आदिवासी अंचल के लोग घरों से निकलने से पहले इस फल को खाना पसंद करते हैं।


कई बीमारियों के लिए रामबाण औषधि होता है

टिमरू में कॉपर, पोटेशियम, सोडियम, कैल्शियम, आयरन, जिंक, मैंगनीज, विटामिन ई, विटामिन के, सेलेनियम जैसे ढेरों पोषक तत्व पाया जाता है। टिमरू फल रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में काफी मददगार साबित होता है। यह फल ह्रदय रोगी, डायबटीज और शरीर की सूजन कम करने के साथ ही वजन घटाने में भी कारगर साबित होता है। साथ ही इस फल का सेवन सभी को करना चाहिए।

टिमरू फल काफी हद तक चीकू जैसा ही होता है। यह पकने के बाद मीठा हो जाता है। इस फल का बीज भी काफी उपयोगी होता है। टिमरू को तोड़कर उसे साफ कर उसका बीज निकाला जाता है और उस बीज से खीर बनाया जाता है। इसके बीज से बनी खीर काफी स्वादिष्ट होती है। टिमरू फल खाने से पेट की पाचन क्रिया मजबूत होती है और पेट भी साफ रहता है।

हृदय के लिए है फायदेमंद

तेंदू फल में कैरोटिनॉइड और टैनिन नाम के दो खास तत्व पाए जाते हैं। ये तत्व फ्री-रेडिकल्स (मुक्त कणों) के प्रभाव को दूर कर हाई ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल जैसे हृदय संबंधी जोखिमों को नियंत्रित रखने में मदद करते हैं। इस कारण यह कहा जा सकता है कि तेंदू फल का उपयोग हृदय स्वास्थ्य के लिए लाभदायक साबित हो सकता है।

100 रुपये प्रति किलो में बिकता है यह फल

यह फल गर्मी के सीजन में 10 से 12 दिन ही चलता है. जिसे जंगलो से तोड़कर लाया जाता है । जिसमे बहुत मेहनत लगती है चूँकि सालभर में बहुत ही कम दिनों के लिए आता है इसलिए इसकी कीमत  100 रुपये प्रति किलो के भाव से बेचे जाते है। यह फल स्वाद में खट्टा और मीठा दो अलग-अलग प्रकार का होता है। यह फल पकने के बाद खाने में अच्छा लगता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इन्हें भी पढ़े