June 23, 2024

SRU : डीएसपीएसआर के अध्यक्ष प्रो. डॉ बी.पी. सिंह का चार दिवसीय प्रशिक्षण, पहले दिन छात्रों को बताया बेसिक मैनेजमेंट…

0

रायपुर।। श्री रावतपुरा सरकार विश्वविद्यालय के शैक्षणिक सत्र 2022-2023 में यूजीसी के विशेषज्ञ सदस्य के रूप कार्य कर चुके प्रो. डॉ बी.पी. सिंह का स्पेशल लेक्चर रखा गया है। स्पेशल लेक्चर का उद्देश्य मैनेजमेंट के छात्रों को ज्यादा से ज्यादा प्रैक्टिकल जानकारी उपलब्ध कराना है।बता दें कि उनके द्वारा छात्रों को चार दिनों का प्रशिक्षण दिया जाएगा।

_Advertisement_

Read More:-“रक्तदान महादान”:श्री रावतपुरा सरकर इंस्टीट्यूट ऑफ नर्सिंग शहडोल में रक्तदान शिविर…

पहले दिन उन्होंने इकोमोनिक, कॉमर्स और मैनेजमेंट बेसिक को साथ विस्तार से छात्रों को समझाया। जिसमें उन्होंने इकोमोनिक को मदर, कॉमर्स को एल्डर डॉटर एवं मैनेजमेंट को यंगर डॉटर के रूप में बताया। प्रबंधन के कार्य योजना, संगठन, स्टाफिंग, निर्देशन, नियंत्रण और समन्वय संगठनात्मक लक्ष्य हैं, प्रभावी ढंग से, कुशलता से और मैनेजमेंट की कार्यप्रणाली की जानकारी दी। इसके साथ ही आज दूसरे दिन उन्होने छात्रों को मिंटज़बर्ग की प्रबंधकीय भूमिकाओं के बारे में बताया जिसमें पारस्परिक भूमिकाएं, निर्णायक वस्त्र और सूचना के बारे में चर्चा की।

_Advertisement_

प्रो डॉ. बी.पी. सिंह वर्तमान में दिल्ली स्कूल ऑफ प्रोफेशनल स्टडीज एंड रिसर्च (डीएसपीएसआर), दिल्ली के शासकीय निकाय के अध्यक्ष हैं साथ ही सोसाइटी फॉर ह्यूमन ट्रांसफॉर्मेशन एंड रिसर्च (एसएचटीआर), दिल्ली के अध्यक्ष भी हैं, जो उपरोक्त संस्थान और वैल्यू वन इन्फोटेक प्राइवेट जैसे कई अन्य संस्थानों को मैनेज करता है। डॉ बी.पी. सिंह को इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी फॉर ह्यूमन ट्रांसफॉर्मेशन (IUHT), रायपुर, छत्तीसगढ़ के चांसलर के रूप में भी काम करने का गौरव प्राप्त है।

_Advertisement_

प्रो डॉ बी.पी. सिंह के पास चार दशकों से ज्यादा का शिक्षण अनुभव है। वाणिज्य विभाग में दो स्नातकोत्तर व्यावसायिक कार्यक्रमों के मुख्य वास्तुकार हैं: मानव संसाधन और संगठनात्मक विकास के मास्टर (एमएचआरओडी) और मास्टर ऑफ इंटरनेशनल बिजनेस (MIB) जिसे उन्होंने अपने कार्यकाल के दौरान वाणिज्य विभाग और डीन, वाणिज्य और व्यवसाय संकाय के रूप में लॉन्च किया। इससे पहले, 1982 में वे डीयू पद पर ग्रहणाधिकार रखते हुए, उदयपुर विश्वविद्यालय के एफएमएस के संस्थापक, प्रोफेसर, प्रमुख और डीन के रूप में शामिल हुए।

Read More:-SRU: रिसर्च सेंटर डायरेक्टर डॉ. ए.के. सरकार को मिला नईदुनिया “ज्योतिर्मय अवॉर्ड”…

डॉ. सिंह ने प्रबंधन, वाणिज्य और अर्थशास्त्र के विभिन्न पहलुओं पर 20 से ज्यादा पुस्तकें लिखी हैं और इन किताबों को स्नातक और स्नातकोत्तर के पाठ्यक्रम में शामिल किया गया है। इसमें प्रबंधन और वाणिज्य विषय के अलावा दो दर्जन से ज्यादा शोध पत्र शामिल हैं। प्रो डॉ बी.पी. सिंह को प्रमुख शोध पर्यवेक्षक के रूप में, 30 शोध विद्वानों ने अपनी पीएच.डी. डिग्री, 30 ने अपनी एम.फिल अर्जित की है। डिग्री और एक ने डी.लिट अर्जित किया है। अध्यापन और अनुसंधान के अलावा उन्हें राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कई पेशेवर सेमिनारों की अध्यक्षता करने का गौरव प्राप्त है। वे विभिन्न सरकारी/अर्द्ध-सरकारी संस्थाओं से जुड़े रहे हैं। प्रोफेसर डॉ बी.पी. सिंह को भारतीय वाणिज्य संघ के कार्यकारी उपाध्यक्ष का पद धारण करने का गौरव प्राप्त है। उन्हें वर्ष 2002 में आरबी इंस्टीट्यूट द्वारा लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया गया था।

श्री रावतपुरा सरकार विश्वविद्यालय के नए शैक्षणिक सत्र में विजिटिंग प्रोफेसर/फेलो के रूप में छात्रों का मार्गदर्शन करने के लिए लेक्चर समय- समय पर लेक्चर का आयोजन किया जाएगा।

Read More:-वनडे टूर्नामेंट : भारतीय स्पिनर ने 10 रन देकर 8 विकेट झटके, 2 ओवर में पूरी की हैट्रिक…

श्री रावतपुरा सरकार लोक कल्याण ट्रस्ट के उपाध्यक्ष डॉ. जे. के. उपाध्याय, विश्वविद्यालय के प्रति-कुलाधिपति हर्ष गौतम, कुलपति प्रो एस. के. सिंह, कुलसचिव प्रभारी मनोज कुमार सिंह ने प्रोफेसर डॉ बी.पी. सिंह को विश्वविद्यालय परिवार की तरफ से शुभकामनाएं दी…

srigo


 

Read More:-वनडे टूर्नामेंट : भारतीय स्पिनर ने 10 रन देकर 8 विकेट झटके, 2 ओवर में पूरी की हैट्रिक…

 


 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *