July 13, 2024

SRU : डीन डॉ. मनीष वर्मा के रिसर्च पेपर हुआ ‘पुराण’ में पब्लिश, अलग-अलग विषयों में कर रहे रिसर्च…

0

रायपुर।। श्री रावतपुरा सरकार विश्वविद्यालय, रायपुर के डीन, फ़ैकल्टी ऑफ आर्ट्स एंड हेड, डिपार्टमेंट ऑफ़ इंग्लिश डॉ. मनीष वर्मा के दो रिसर्च पेपर यूजीसी केयर लिस्ट-1 के जर्नल ‘पुराण’ में पब्लिश हुआ है। जिसका इम्पैक्ट फ़ैक्टर 4.9 है।डॉ. मनीष वर्मा के रिसर्च पेपर में एक विषय आईडेंटीफाइंग टेक्स्ट्स विथ हाई रीडएबिलिटी: एन इन्वेस्टीगेशन ऑफ़ द वर्क्स ऑफ़ सुधा मूर्ति ( IDENTIFYING TEXTS WITH HIGH READABILITY :AN INVESTIGATION OF THE WORKS OF SUDHA MURTY ) एवं दूसरा रिसर्च पेपर कोलोनियल डाएसपोरा एण्ड गिरमिटया आइडेंटिटी नेगोटिएशन इन अमिताव घोष इबिस ट्रिलॉजी” (COLONIAL DIASPORA AND GIRMITYA IDENTITY NEGOTIATION IN AMITAV GHOS’S IBIS TRILOGY) है।


Read More:-SRI : नवा रायपुर कैंपस में दीपावली के शुभ मौके पर लक्ष्मी जी की पूजा, स्टाफ में किया गया मिष्ठान वितरण…

जानकारी के लिए बता दें कि अँग्रेज़ी साहित्य के दो महत्वपूर्ण विषयों में डॉ. मनीष वर्मा ने कार्य किया है। इन विषयों में गहन अध्ययन के बाद अब उसे यूजीसी केयर लिस्ट-1 के जर्नल ‘पुराण’ में स्थान दिया गया है। बता दें कि उन्होंने दो रिसर्च पेपर पहले भी प्रकाशित किये हैं और अब उन्होंने फिर दो अलग-अलग विषयों पर गहन अध्ययन कर के रिसर्च किया है और अब 2022 में डॉ. मनीष वर्मा के अभी तक कुल 4 शोधपत्र यूजीसी केयर लिस्ट-1 के जर्नल में प्रकाशित हो चुके हैं। उन्होंने बताया कि शुरू से उन्हें रिसर्च में गहन रूचि है तथा जल्दी ही उनकी एक क़िताब भी प्रकाशित होने वाली है।



Read More:-SRI : दीपावली के अवसर पर सागर कैंपस में की गई पूजा अर्चना…

श्री रावतपुरा सरकार लोक कल्याण ट्रस्ट के उपाध्यक्ष डॉ. जे. के. उपाध्याय, विश्वविद्यालय के प्रति-कुलाधिपति हर्ष गौतम, कुलपति प्रो एस. के. सिंह, कुलसचिव प्रभारी मनोज कुमार सिंह ने डीन, फ़ैकल्टी ऑफ आर्ट्स एंड हेड, डिपार्टमेंट ऑफ़ इंग्लिश, डॉ. मनीष वर्मा को विश्वविद्यालय परिवार की तरफ से शुभकामनाएं दी…

Read More:-श्री रावतपुरा सरकार ग्रुप ऑफ इंस्टिट्यूट्संस जबलपुर में मनाया गया दीपावली महापर्व…


 


 

_Advertisement_
_Advertisement_
_Advertisement_

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इन्हें भी पढ़े