June 21, 2024

जानिए श्री रावतपुरा सरकार विश्वविद्यालय में कैसे मनाया जायेगा गुरूपूर्णिमा पर्व…

0

हिंदू धर्म में गुरु को ब्रह्मा, विष्णु और महेश के समान माना गया है। शास्त्रों में गुरु को भगवान के ऊपर का दर्जा दिया गया है। गुरु पूर्णिमा के दिन गुरु की पूजा का विशेष महत्व होता है। इस साल गुरु पूर्णिमा का पर्व बुधवार 13 जुलाई को मनाया जाएगा। पौराणिक मान्यताओं के अनुसार आषाढ़ मास की पूर्णिमा के दिन वेदों के रचयिता महर्षि वेदव्यास का जन्म हुआ था। यही कारण हैं कि गुरु पूर्णिमा के दिन व्यास जयंती भी मनाई जाती है।

_Advertisement_

वहीं इस बार श्री रावतपुरा सरकार विश्वविद्यालय (आश्रम) रायपुर में गुरूपूर्णिमा पर्व मनाया जायेगा. इस पर्व को बुधवार 13 जुलाई सुबह 05:00 बजे ब्रह्म मुहूर्त को मनाया जायेगा।

_Advertisement_

Read More:-CGPSC: होम्योपैथी चिकित्सा अधिकारी, सहायक क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी, दंत शल्य चिकित्सक एवं निरीक्षक वाष्पयंत्र के पदों पर भर्ती चयन परीक्षा, देंखे परीक्षा केंद्र…

कैसे मनाया जायेगा गुरुपूर्णिमा-

• इस कार्यक्रम में श्री सदगुरू देव भगवान के पादुका का पूजन और अभिषेक से शुरुआत की जाएगी।
• सुबह 9 बजे अस्थामंच में प्रार्थना की जाएगी।
• 10 बजे से श्री रामार्चन पूजन अनुष्ठान किया जाएगा।
• सायंकालीन बेला में श्री सत्यनारायण भगवान की कथा।
• शाम 6 बजे सायंकालीन प्रार्थना एवं ललितासहस्त्रार्चन कार्यक्रम किया जाएगा।

_Advertisement_

गुरुपूर्णिमा के पावन अवसर पर श्री रावतपुरा सरकार विश्वविद्यालय के प्रति-कुलाधिपति हर्ष गौतम, कुलपति डॉ. एस. के.सिंह, कुलसचिव प्रभारी मनोज कुमार सिंह एवं समस्त डीन, एचओडी,शिक्षक और विद्यार्थी शामिल होंगे।

Read More:-मौसम अपडेट : देश के कई राज्यों में भारी बारिश के कारण मची तबाही, गुजरात और एमपी में हाहाकार, अब तक 148 की गई जान…

 


 


 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इन्हें भी पढ़े