July 13, 2024

मानसून में खुद को बचाना है सीजनल एलर्जी से तो करें इन फूड्स को शामिल…

0

मानसून का सीजन दस्तक दे चूका है। मानसून के साथ आते है अक्सर कई तरह की स्वास्थ्य समस्याएं। जो लोगों को अपना शिकार बना लेती हैं। इस दौरान छींकें आना, आंखों में खुजली और कंजेशन जैसी कई समस्याएं लोगों को प्रभावित करती है। इस दौरान सेहतमंद रहने और इन बीमारियों से बचे रहने के लिए अपनी डाइट में सही बदलाव करके स्वस्थ रहा जा सकता है। बरसात के साथ ही तापमान में गिरावट होने लगी है और मौसम करवट बदलने लगा है। कम होती गर्मी और बारिश जल्द आने वाले मानसून का इशारा है। मानसून की शुरुआत के साथ ही मौसम खुशनुमा हो जाता है, लेकिन इसके साथ ही इस दौरान कई सारी सीजनल एलर्जी का भी सामना करना पड़ता है। बरसात के दिनों में छींकें आना, आंखों में खुजली और कंजेशन आदि आम समस्याएं होती हैं।

कुछ लोगों के लिए भले ही यह समस्या मामूली हो सकती हैं, लेकिन कुछ लोगों के लिए यह गंभीर हो सकती हैं और रोजमर्रा के काम में रुकावट बन सकती हैं। ऐसे में जरूरी है कि मानसून आने से पहले ही इसकी तैयारी पूरी कर ली जाए। बरसात के मौसम में होने वाली एलर्जी से बचने के लिए आप अपनी डाइट में कुछ जरूरी बदलाव कर खुद को हेल्दी रख सकते हैं।

ओमेगा-3 युक्त फैटी एसिड

किसी भी तरह के संक्रमण या एलर्जी से बचे रहने के लिए जरूरी है कि इम्युनिटी सिस्टम मजबूत रहे। ऐसे में ओमेगा-3 फैटी एसिड इम्यून फंक्शन को बेहतर करने में अहम भूमिका निभा सकते हैं। यह एलर्जी और संक्रमण के खिलाफ आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने में मदद करते हैं। ऐसे में इस मानसून अपनी डाइट में सैल्मन, चिया सीड्स, अलसी और अखरोट जैसी ओमेगा 3 से युक्त चीजे जरूर शामिल करें।


एंटीऑक्सीडेंट

बरसात के मौसम में अपनी इम्युनिटी बूस्ट करने के लिए एंटीऑक्सीडेंट्स की आवश्यकता होती हैं। जिसके लिए विटामिन सी एक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट है, जो एलर्जी के खिलाफ इम्यून सिस्टम को मजबूत करता है। ऐसे में मानसून में खुद को एलर्जी से बचाने के लिए विटामिन सी से भरपूर फूड्स जैसे संतरे, शिमला मिर्च, ब्रोकोली, कीवी और स्ट्रॉबेरी को डाइट का हिस्सा बना सकते हैं।

प्रोबायोटिक्स

प्रोबायोटिक्स भी मानसून में एलर्जी से बचाने में मदद कर सकते हैं। दही और किमची जैसे फर्मेंटेटेड फूड्स में मौजूद प्रोबायोटिक्स एलर्जी से निपटने में मददगार साबित हो सकते हैं। इन्हें डाइट में शामिल करने से हेल्दी गट माइक्रोबायोम को बढ़ावा मिलता है, इम्युनिटी बेहतर होती है और संभावित रूप से एलर्जी से बचाव होता है।

असेंशियल मिनरल्स

बरसात में होने वाली एलर्जी से बचने के लिए मैग्नीशियम जैसे असेंशियल मिनरल्स भी काफी कारगर होते हैं। मैग्नीशियम से भरपूर फूड्स जैसे- बादाम, कद्दू के बीज, पालक, डार्क चॉकलेट और एवोकैडो एंटीऑक्सीडेंट एंजाइम प्रोडक्ट को शामिल किया जा सकता हैं, इम्यून सेल्स फंक्शन को व्यवस्थित करते हैं और प्रतिरक्षा को बढ़ाते हैं, जिससे एलर्जी से बचाव होता है।

एंटी-इंफ्लेमेशन

एंटी-इंफ्लेमेशन फूड्स जैसे हल्दी, अदरक, हरी पत्तेदार सब्जियां, बेरीज और जैतून का तेल पॉलीफेनोल्स और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं, जो एलर्जी तो दूर रखने में मदद करते हैं। ये सभी फूड्स नेचुरल इम्यून फंक्शन को बेहतर बनाते हैं, सूजन कम करते हैं और प्रतिरक्षा संतुलन को बढ़ावा देते हैं, जिससे एलर्जी को प्रभावी ढंग से प्रबंधित करने में मदद मिलती है।

_Advertisement_
_Advertisement_
_Advertisement_

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इन्हें भी पढ़े