July 13, 2024

DRDO की लैब्‍स का फोकस बढ़ा आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर, रक्षा मंत्री करेंगे 75 डिफेंस प्रोडक्‍ट्स पेश…

0

भारतीय रक्षा मंत्री आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से चलने वाले 75 डिफेंस प्रोडक्‍ट्स सोमवार को पेश करेंगे। बता दें देश में मनाए जा रहे आजादी के 75 वर्ष के जश्न के तहत इन 75 उत्पादों को रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भरता को बढ़ावा देने के लिए पहली बार ‘आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस इन डिफेंस’ संगोष्ठी और प्रदर्शनी में पेश किया जाएगा। रक्षा सचिव अजय कुमार सिंह ने एक प्रेस ब्रीफिंग के दौरान कहा’सोमवार को हम एक कार्यक्रम करने जा रहे है जिसमें कृत्रिम मेधा द्वारा संचालित 75 उत्पाद,तकनीक और समाधान,जिनका रक्षा क्षेत्र में अनुप्रयोग है पेश किए जाएंगे।’

Read More:-श्री रावतपुरा सरकार इंस्टीट्यूट ऑफ नर्सिंग में 150 लोगों का हुआ टीकाकरण, लगाये गये कोविशील्ड और को-वैक्सीन…

सिंह ने कहा कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस आधुनिक युद्ध के सभी क्षेत्रों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी, चाहे वह साजो-सामान हो या मानव व्यवहार। उन्होंने कहा कि 75 उत्पादों में से कुछ पहले से ही सशस्त्र बलों द्वारा उपयोग किए जा रहे हैं, जबकि शेष तैनाती की प्रक्रिया में हैं।

भारत के डिफेंस सेक्‍टर के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस अभी शुरुआती चरण में हैं। भारत में अब डिफेंस आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस काउंसिल है जिसका नेतृत्‍व रक्षा मंत्री करते हैं। सिंह पहले ही ऐलान कर चुके हैं कि 2024 तक खासतौर से डिफेंस के लिए बनाए गए 25 उत्‍पाद विकसित किए जाएंगे। एक डिफेंस AI प्रोजेक्‍ट एजेंसी भी बनाई गई है और AI प्रोजेक्‍ट्स के लिए 100 करोड़ रुपये अलॉट किए गए हैं। चीन इस मामले में मीलों आगे है। उसका लंबे समय से ‘इन्‍फॉर्मेटाइज्‍ड’ और ‘इंटेलिजेंटिजाइज्‍ड’ वारफेयर पर फोकस रहा है।


Read More:-छत्तीसगढ़ आने वाली हैं राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू, जोरो-शोरो से तैयारियों में लगी भाजपा…

 

resistration open 2022-23


 


 

_Advertisement_
_Advertisement_
_Advertisement_

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इन्हें भी पढ़े