भटगांव में तेज रफ़्तार महिंद्रा जीप की भेट चढ़ा व्यक्ति, मौके पर ही हुई दर्दनाक मौत…

0
मृतक कुंवरलाल सूर्यवंशी

इनसेट में मृतक कुंवरलाल सूर्यवंशी

सूरजपुर । सूरजपुर जिले के भटगांव थाना क्षेत्र अंतर्गत आने वाले भटगांव में बीते रात शुक्रवार को करीबन रात्रि 8 बजे भटगांव सड़क किनारे खड़े युवक को वाहन ने टक्कर मारी, वाहन की गति तेज होने की वजह से युवक की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई, मौत की जानकारी मिलते ही परिवार जनो में मातम छाया हुआ है।

घटनास्थल व परिवार जनो के द्वारा दी गयी जानकारी के अनुसार युवक डबल स्टोरी भटगांव क्वाटर नंबर 795 कुंवरलाल सुर्यवंशी जो की एसईसीएल भटगांव में नौकरी करता था, जो बीते रात के शाम करीब 07.30 बजे घरेलू सामान लेने घर से अकेले पैदल दुकान गये थे, जो रात्री करीब 8 बजे सोनू इलेक्ट्रानिक दुकान के सामने मेन रोड में पहुँचा था उसी समय बिना नंबर काले रंग का महिन्द्रा जीप (मोडीफाईड) का चालक आदित्य सिंह पिता स्व० शैलेन्द्र सिंह निवासी भटगांव का अपने वाहन को शराब के नशे में तेज गति एवं लापरवाहीपूर्वक चलाते हुए कुंवरलाल सुर्यवंशी को पीछे तरफ से ठोकर मारकर एक्सीडेंट कर दिया।


एक्सीडेंट करने के बाद दुर्घटनाकारित वाहन से उतरकर वहाँ पर उपस्थित लोगों से बोला कि जिन्दा है या मर गया है बोलकर दुर्घटनाकारित वाहन को वहीं पर छोड़कर अपने दुसरी गाड़ी में बैठकर वहाँ से भाग गया। एक्सीडेंट होने से युवक के सिर, दाये हाँथ, पैर में गंभीर चोट लगा था जिन्हें तत्काल ईलाज के लिए एसईसीएल अस्पताल भटगांव लेकर गये, जहाँ डाक्टर द्वारा चेक करने के बाद मृत होना बताने पर मृतक के शव को एसईसीएल अस्पताल भटगांव के मरच्युरी रूम में रखवाया गया था।

परिजनों के साथ नगरवासी त्रिपाठी चौक मेन रोड को चक्का जाम कर किया प्रदर्शन

बीते रात हुए घटना और मौत की घटना से रुष्ठ होकर नगरवासी भटगांव, जरही और आस पास के ग्रामीण त्रिपाठी चौक पर जरही – भटगांव मेन रोड पर आवागमन करने वाली समस्त गाड़ियों को रोककर धरना प्रदर्शन किया । जहां स्थानीय थाना भटगांव के स्टाफ उपस्थित होकर परिजनों और क्षेत्र वासियों को मनाने का प्रयास किया । लेकिन उन्हें मनाने में सफल नहीं हुए जहां प्रदर्शनकारी लगातार आरोपी को गिरफ्तार करने और कठोर से कठोर कार्यवाही करने की मांग करते रहे धरना प्रदर्शन में उपस्थित जनता एक सुर में कहती नजर आई की लंबे अरसे से रोड पर चलना दुबर हो गया है जहां तेज गति के बाइकर्स और अन्य गाड़ियों की असीमित गति पर रोक लगाने की लगातार मांग की जा रही थी।

लेकिन स्थानीय प्रशासन के द्वारा इस दिशा में तेज गति पर रोक लगाने में कोई प्रयास नहीं किया गया जो आज एक नागरिक को अपनी जान गंवाकर इसकी कीमत चुकानी पड़ी जो शायद अब तक इसी के इंतजार में था प्रशासन जहां एसडीओपी की उपस्थिति में समझाइश दिया गया और 7 दिनों के अंदर आरोपी को गिरफ्तार कर कार्यवाही करने की बात कही गई जहां प्रदर्शनकारियों ने लगभग 4 घंटे बाद धरना प्रदर्शन को समाप्त किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *