दिल्ली-NCR समेत  यूपी-बिहार में देर रात तेज भूकंप से कांप उठी धरती

0

 नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी के अनुसार रिक्टर पैमाने पर भूकंप की तीव्रता 5.9 मापी गई  

        दिल्ली-एनसीआर में देर रात काफी देर तक भूकंप के झटके महसूस किए गए। भूकंप का झटका इतना तेज था कि लोग काफी सहम गए। भूकंप के झटके लगातार 30 से 40 सेकंड तक महसूस किए गए। नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी के अनुसार रिक्टर पैमाने पर भूकंप की तीव्रता 5.9 मापी गई। भूकंप का केंद्र नेपाल में था। भूकंप का समय रात करीब 11.32 मिनट रहा। नेपाल में भूंकप से भीषण तबाही हुई है। यहां भूकंप के तेज झटकों की वजह से 69 लोगों की जान चली गई।

           नेपाल के जाजरकोट और रुकुम पश्चिम कई इमारतें भूकंप के झटके से ढह गईं। भूकंप की वजह से कई लोग घायल हुए । स्थानीय प्रशासन का कहना है कि भूकंप में मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है। भूकंप के झटके यूपी के साथ ही बिहार में महसूस किए। भूकंप का झटके इतना जबरदस्त थे कि लोग अपने घरों से बाहर निकल आए। कई लोग अपने बच्चों को गोद में लेकर नीचे की तरफ भागे। एनसीआर में मल्टीस्टोरी बिल्डिंग में रहने वाले लोग अपने फ्लैट से बाहर निकल आए। लोगों का कहना था कि ऐसा महसूस हो रहा था कि पूरी बिल्डिंग कांप रही है।                                     

यूपी और बिहार में भी झटके महसूस किये गये 

 

        भूकंप के झटके यूपी से लेकर बिहार तक महसूस किए गए। यूपी, बिहार में जब भूकंप आया उस समय तक अधिक लोग सो चुके थे। ऐसे में अचानक भूकंप के झटकों से लोगों की नींद खुल गई। लोग घबराकर अपने घरों से बाहर आ गए। भूकंप के झटकों से घर का सामान हिलने लगा। भूकंप के बाद लोग अपने घरों के भीतर जाने से डर रहे थे। लोगों के मन में डर था कि कहीं भूकंप के झटके दुबारा ना आ जाएं। पटना में स्थानीय लोगों ने कहा कि उन्हें भूकंप के झटके 25 से 30 सेकंड तक महसूस हुआ। लोगों ने बताया कि अभी हम लोग सोने की तैयारी में थे तभी अचानक पलंग हिलने लगा।

      भूकंप का केंद्र नेपाल के जाजरकोट जिले में था। जाजरकोट यूपी और बिहार के करीब है। इस वजह से उत्तर भारत के साथ ही पूर्वी भारत में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए। दिल्ली-एनसीआर में भूकंप के झटके बहुत तेज महसूस किए गए। हालांकि,नेपाल में जहां भूकंप का केंद्र था वहां सबसे अधिक नुकसान हुआ है।नेपाल के जाजरकोट में 32 और रुकुम पश्चिम में कम से कम 36 लोगों की मौत की पुष्टि की गई है। मरने वालों की संख्या और बढ़ने की आशंका है। रुकुम पश्चिम के मुख्य ज़िला अधिकारी हरि प्रसाद पंत ने ANI को बताया कि मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *