June 21, 2024

SRU में हुआ NAAC ACCREDITATION पर दो दिवसीय वर्कशॉप,देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के प्रोफेसर डॉ.प्रतोष बंसल ने दी जानकारी…

0

रायपुर || श्री रावतपुरा सरकार विश्वविद्यालय में श्री रविशंकर जी महाराज के आशीर्वाद से 19 मई गुरुवार को NATIONAL ASSESSMENT AND ACCREDITATION COUNCIL यानि NAAC ACCREDITATION पर दो दिवसीय वर्कशॉप का आयोजन किया जा रहा है . जिसमें NAAC की कार्यप्रणाली कि जानकारी दी गई. वर्कशॉप के पहले दिन का शुभारम्भ विश्वविद्यालय के प्रति कुलाधिपति डॉ. जे.के.उपाध्याय, कुलपति प्रो.डॉ. एस. के.सिंह, कुलसचिव डॉ. प्रताप सिंह के मार्गदर्शन में किया गया । बता दे राष्ट्रीय मूल्यांकन और प्रत्यायन परिषद् (NAAC) एक संस्थान है जो देश में उच्च शिक्षा और शैक्षणिक संस्थानों का आंकलन कर मान्यता प्रदान करने का काम करती है.

_Advertisement_

join whatsapp

_Advertisement_

 

_Advertisement_

Read More:-भारतीय सेना में नौकरी करने का सुनहरा मौका, इन पदों के लिए करे आवेदन…

कार्यक्रम कि शुरुवात करते हुए विश्वविद्यालय के प्रति कुलाधिपति डॉ. जे.के.उपाध्याय ने कहा कि खुद को कैसे एक्सपर्ट करना है, शिक्षक, सुविधा और काम करने के दृष्टिकोण के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि गुरु का उद्देश्य पैसा बनाना नही बल्कि उच्च गुणवत्ता युक्त शिक्षा प्रदान करना है साथ ही सभी उपस्थित स्टाफ को शुभकामनाये देते हुए NAAC के इस वर्कशॉप से ज्यादा से ज्यादा जानकारी लेने और विश्वविद्यालय को उच्च स्तर पर ले जाने के लिए तकनीकी के साथ प्रायोगिक रूप से जागरूक रहने की बात कही.


 

Read More:-bollywood : क्रिकेट के बाद कैमरे के सामने आपना जौहर दिखाएँगे  शिखर धवन, ‘गब्बर’ की होगी बॉलीवुड एंट्री…

कुलपति प्रो.डॉ. एस. के.सिंह ने कहा कि NAAC ACCREDITATION काफी बड़ा प्रोग्राम है जिसकी तैयारी हमे 2 साल पहले करनी पड़ेगी क्यूंकि ये काफी लम्बी अवधि के बाद बेहतर परिणाम देगा. जो तकनकी सत्र है उस पर प्रोफेसर डॉ. प्रतोष बंसल द्वारा गहन विमर्ष किया जाएगा. उन्होंने कहा कि हमारे जो शिक्षक और डिपार्टमेंट के हेड को इस प्रक्रिया को बेहतर ढंग से समझने में आसानी होंगी. NAAC और UGC द्वारा निर्धारित नियमो और मापदन्डों को अच्छी तरह समझाया जाएगा जिससे विवि कड़ी मेहनत करके इसे बेहतर रूप दे सकता है और इससे हमारा परफॉरमेंस अच्छा होगा.


 

Read More:-bollywood : क्रिकेट के बाद कैमरे के सामने आपना जौहर दिखाएँगे  शिखर धवन, ‘गब्बर’ की होगी बॉलीवुड एंट्री…

NAAC के रिसोर्स पर्सन देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के प्रोफेसर डॉ. प्रतोष बंसल ने कार्यकम को सम्बोधित करते हुए कहा कि शिक्षा मंत्रालय द्वारा मान्यता प्राप्त NAAC कि तकनीकी कार्यप्रणाली के बारे में शिक्षकों को विस्तृत जानकारी दी जा रही है जिससे विवि की शिक्षा गुणवत्ता में सुधार होगा .


 

Read More:-Health : बॉडी और माइंड को फिट बनाये ये चार फूड्स, जानिए इसके फायदे…

कुलसचिव डॉ. प्रताप सिंह ने कहा कि NAAC के नियमो और मापदन्डों को ध्यान में रखते हुए विश्वविद्यालय को उच्चस्तर पर ले जाने के लिए दो दिवसीय वर्कशॉप का आयोजन किया गया है जिसमे मुख्य रूप से देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी के प्रोफेसर डॉ. प्रतोष बंसल ने यूनिवर्सिटी के विभिन्न विभागों के हेड और शिक्षकों को जागरूक करने के लिए कि किस तरह से हम NAAC के लिए तैयार रहे जो 2024 में लागु होगा. वही उन्होंने बताया कि UGC के सभी मापदन्डों पर किस तरह से खरा उतरे इसकी जानकारी इस दो दिवसीय वर्कशॉप में दी जाएगी.

 


श्री रावतपुरा सरकार विश्वविद्यालय के प्रति-कुलाधिपति डॉ. जे. के. उपाध्याय ने कुलपति डॉ. एस. के. सिंह, कुलसचिव डॉ. प्रताप सिंह, उपकुलसचिव भानु प्रताप सिंह, उपकुलसचिव संजीव कुमार के साथ संस्थान के समस्त शैक्षणिक स्टाफ को इस दो दिवसीय वर्कशॉप में शामिल होकर NAAC के मापदन्डों पर खरा उतरने के लिए प्रेरित किया .

Read More:-सरकारी नौकरी: PWD ने निकाली 346 एग्जीक्यूटिव इंजीनियर के पदों पर भर्ती, 8वीं पास भी कर सकेंगे आवेदन…

 


 

Read More:-असम में भारी बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त, 20 जिलों के 1.97 लाख लोग हुए प्रभावित…

 


 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इन्हें भी पढ़े