May 23, 2024

तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था से देश में जीएसटी का संग्रह हुआ 2 लाख के पार…

0

नई दिल्ली। वित्त मंत्रालय ने जीएसटी के आंकड़े जारी करते हुए बताया है कि देश में गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स (GST) के कलेक्शन में तेजी देखने को मिली है। जो अब तक के सर्वाधिक उच्च स्तर पर पहुंच गया है।  जिसके अनुसार अप्रैल 2024 में सकल वस्तु एवं सेवा कर संग्रह 2.10 लाख करोड़ रुपये के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया है। यह पहली बार होगा जब किसी महीने में जीएसटी राजस्व 2 लाख करोड़ रुपये के पार चला गया है। इससे पहले मार्च महीने में भी छप्‍परफाड़ जीएसटी कलेक्‍शन हुआ था। यह सालाना आधार पर 11.5 फीसदी बढ़ा था।

_Advertisement_

_Advertisement_

आर्थिक स्थिति में आई है मजबूती

ईवाई इंडिया के टैक्स पार्टनर ने कहा कि जीएसटी के सभी अंगों सीजीएसटी, एसजीएसटी, आईजीएसटी और सेस सेगमेंट, सभी ने महत्वपूर्ण योगदान और अच्छा प्रदर्शन किया है। जिससे कि आर्थिक स्थिति में भी मजबूती आयी है। जीएसटी के अधिकारियों के संयुक्त प्रयासों ने गैर-फाइलर्स के खिलाफ कड़ी कार्रवाई और झूठी चालानों के खिलाफ लड़ाई में बड़ा योगदान दिया है, जिससे राज्य के खजाने में जीएसटी जमा राशि में भी बढ़ोत्तरी हुई है।

_Advertisement_

तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था

टैक्स कनेक्ट एडवाइजरी सर्विसेज एलएलपी का कहना है कि जुलाई 2017 में 0.9 लाख करोड़ रुपये के औसत मासिक संग्रह की शुरुआत अप्रैल 2024 में 2.1 लाख करोड़ रुपये के औसत संग्रह तक जीएसटी राजस्व ने लगभग 13% वार्षिक की औसत वृद्धि दर्ज की है। मंहगाई की 5% और जीडीपी की 7% वृद्धि को देखते हुए विगत सात वर्षों में वार्षिक आधार पर औसतन 1% की उछाल देखी गई है, जिसमें कोविड19 बंदी के दौरान दो वर्षों की अप्रत्याशित भारी गिरावट शामिल रही। भारतीय अर्थव्यवस्था तीव्र गति से औपचारिकता की राह पर है और बिजनेस तेजी से संगठित होकर मुख्यधारा में शामिल हो रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इन्हें भी पढ़े